Breaking News

MP और पुदुचेरी के शिक्षा मंत्रियों ने किया दिल्ली के सरकारी स्कूलों का दौरा, कहा- केजरीवाल सरकार ने शिक्षा में अच्छा काम किया

Jayraj Shah 31 July 2019 4:40 PM National 79315

देश की दूसरी सबसे बड़ी पॉलीटिकल पार्टी और कभी आम आदमी पार्टी की सबसे बड़ी विरोधी माने जाने वाली कांग्रेस भी आखिरकार दिल्ली में केजरीवाल सरकार के कामों की कायल हो गई है. कांग्रेस शासन वाले दो राज्य मध्य प्रदेश और पुडुचेरी के शिक्षा मंत्रियों ने मंगलवार को दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया के साथ दिल्ली सरकार के स्कूलों का दौरा किया और शिक्षा के क्षेत्र में किये कामों की तारीफ की. मध्य प्रदेश के शिक्षा मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी ने कहा, “यह शिक्षा का मामला है इसमें यह बात महत्वपूर्ण नहीं है कि किसकी सरकार है या किसकी नहीं है. जब मैं शिक्षा मंत्री बना उस समय निश्चित रूप से मैंने सुना था कि दिल्ली में मनीष जी ने शिक्षा में अच्छा काम किया है तो मैंने अपने अधिकारियों को पहले भेजा था. तो मनीष जी का मेरे पास फोन आया था तो मुझे खुशी हुई. मैं भी चाहता था कि दिल्ली में जो एजुकेशन में काम हुआ उसको देखूं. मुझे खुशी हुई कि उन्होंने मुझे खुद आमंत्रित किया है. आज हम एक दो स्कूलों में गए और देख रहे हैं कि उन्होंने जो काम किया है वो निश्चित रूप से सराहनीय काम है.”

क्या मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार दिल्ली जैसा शिक्षा का मॉडल अपने यहां लागू करेगी? इस सवाल के जवाब में चौधरी ने कहा “दिल्ली और मध्य प्रदेश की स्थिति अलग-अलग है दिल्ली में करीब 1000 सरकारी स्कूल है जबकि मध्य प्रदेश में करीब डेढ़ लाख. लेकिन अगर कहीं कोई चीज़ अच्छी होती है तो निश्चित रूप से हर कोई उससे सीखता है और सीखने के बाद क्या हम इस बारे में कर सकते हैं उस पर हम लोग विचार करेंगे.

पुदुचेरी में भी कांग्रेस की सरकार है. पुदुचेरी के शिक्षा मंत्री तो दिल्ली के सरकारी स्कूल में चल रहे हैप्पीनेस करिकुलम से इतने प्रभवित दिखे कि अगले सत्र से अपने यहां के स्कूलों में भी लागू करने का ऐलान कर दिया. पुदुचेरी के शिक्षा मंत्री कमला कन्नन ने कहा, “तीन महीने पहले हमने अपने डायरेक्टर और टीम को हैप्पीनेस करिकुलम के बारे में स्टडी करने भेजा था और वो इसकी तैयारी कर रहे हैं. आने वाले सत्र में हम इसको अपने यहां लागू करने की कोशिश करेंगे.”

कांग्रेसी राज्यों के शिक्षा मंत्री  की तरफ से  खुलकर तारीफ मिलने  पर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री गदगद नजर आये. उन्होंने कहा, “अलग-अलग राज्यों के शिक्षा मंत्रियों को आमंत्रित करने का मकसद सिर्फ यह नहीं है कि हम कुछ अच्छा कर रहे हैं तो उसको आप कॉपी कर लीजिए. हमारा मकसद यह है कि अगर कुछ अच्छा दिल्ली में हो रहा है तो उससे सीखा जा सकता है कुछ अच्छा आप के राज्यों में हो रहा होगा तो उसे सीखा जा सकता है और अच्छे से अच्छा सीख कर हम पूरे देश में बच्चों को बेहतरीन शिक्षा दे सकें.”

आपको बता दें कि 16 से 31 जुलाई तक दिल्ली सरकार के स्कूलों में हैप्पीनेस उत्सव चल रहा है जिसके तहत दिल्ली सरकार देश के बड़े और नामी लोगों को अपने स्कूलों में लाकर अपना काम दिखा रही है. इस कड़ी में अब तक मेघालय और उड़ीसा के शिक्षा मंत्री के साथ सुपर थर्टी आनंद कुमार और फिल्म 3 इडियट्स का आमिर खान का फुंसुख वांगड़ू का किरदार जिस शख्स से प्रेरित है वह सोनम वांगचुक भी दिल्ली सरकार के स्कूल देखकर उनकी जमकर तारीफ कर चुके हैं.

 

SOURCE:-NDTV

Related News