Breaking News

न्यूज़ीलैंड की मस्जिद में आतंकी हमला, 49 लोगो की मौत।

Harshit Sharma 15 March 2019 3:18 PM International 54726

न्यूज़ीलैंड में बड़ा आतंकी हमला, मस्जिद में अंधाधुंद फायरिंग में 49 लोगों की मौत।

 

सिरफिरे कट्टरपंथियो ने मचाया आतंक, दहशत मे स्थानीय नागरिक।

न्यूज़ीलैंड के दक्षिण में स्थित क्राइस्टचर्च में उस समय अफरातफरी का माहौल बन गया जब शहर की 2 मस्जिदों में लगभग दर्जन भर बंदूकधारियों ने नामज अदा कर रहे नागरिको पर अंधाधुंध गोलीबारी बारी कर आतंक मचाना शुरू कर दिया। कोई कुछ समझ पाता तब तक काफी देर हो चुकी थी  हर तरफ लाशें बिछी हुई खून से फर्श सना पड़ा था। सुनाई दे रही थी तो गोलियों की आवाज और नामाजदारो की चीखें।

डेली मेल की खबर के मुताबिक आतंकियों में पूरी घटना का लाइव स्ट्रीम अपने सोशल मीडिया पर किया , उनका मकसद दहशत फैलाने था।

गवाहों ने क्राइस्टचर्च में अल नूर मस्जिद में अर्ध-स्वचालित बन्दूक से 50 शॉट्स फायर की आवाज सुनने की सूचना दी

बंदूकधारी ने अल नूर मस्जिद के अंदर बड़े पैमाने पर फायरिंग करते हुए घटना का सोशल मीडिया पर लाइव-स्ट्रीम किया, जो लगभग 1.30 बजे (न्यूज़ीलैंड के समय) हुई।

प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा है कि उन्होंने ‘हर जगह खून देखा’ और कई लोगों को इस नरसंहार में मार डाला गया था

बंदूकधारियों में से एक ने मस्जिद के अंदर दर्जनों लोगों पर फायरिंग की जिससे वे भागने की कोशिश करने लगे

चार लोगो को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया गया

28 वर्षीय एक ऑस्ट्रेलियाई कट्टरपंथी आतंकवादी ने न्यूजीलैंड में मस्जिद हमलों की एक जोड़ी में शामिल चार लोगों में से एक है, जिसमें 49 लोग मारे गए और 48 घायल हो गए।

गवाहों ने मस्जिद के अंदर 50 से अधिक शॉट्स की आवाज सुनने की सूचना दी, जिसमें एक अर्ध-स्वचालित बन्दूक और राइफल शामिल थी ।देश के दक्षिण द्वीप पर क्राइस्टचर्च में स्थित अल नूर मस्जिद में यह हमला हुआ।

गनमैन – जो न्यू साउथ वेल्स के ग्राफ्टन से ब्रेंटन टैरंट के रूप में ट्विटर पर अपनी पहचान बता रहा है अल नूर मस्जिद के अंदर बड़े पैमाने पर शूटिंग को लाइवस्ट्रीम किया, जो शुक्रवार दोपहर 1.30 बजे हुआ था।

डेली मेल ऑस्ट्रेलिया द्वारा देखे गए एक वीडियो में दर्जनों लोगों को कई लोगों पर गोली चलाते हुए दिखाया गया है क्योंकि वे भागने की कोशिश करते हैं।

क्राइस्टचर्च शहर में लिनवुड में एक दूसरी मस्जिद पर भी बाद में हमला किया गया था।

पूछताछ के लिए चार लोगों को हिरासत में लिया गया, जिनमें तीन पुरुष और एक महिला शामिल हैं। न्यूजीलैंड के प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न ने कहा कि वे आतंकी निगरानी सूची में नहीं थे।

उनमें से एक को सुसाइडल सूट पहने हुए गिरफ्तार किया गया, जबकि पपनुई हाई स्कूल के बाहर सैन्य वर्दी पहने हुए एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया।

संदिग्ध बंदूकधारी ने हत्याओं से पहले ट्विटर पर 73 पन्नों का घोषणापत्र पोस्ट किया, जिसमें इसे एक ‘आतंकवादी हमला’ बताया गया।

मारे गए 49 लोगों में से 30 लोग अल नूर मस्जिद में मारे गए थे। लिनवुड एवेन्यू मस्जिद में दस अन्य लोग मारे गए। उन पीड़ितों में से तीन मस्जिद के बाहर ही थे।

क्राइस्टचर्च अस्पताल में कम से कम 48 लोगों का इलाज किया जा रहा है, जबकि 20 गंभीर हालत में हैं।

न्यूजीलैंड का अब तक का सबसे भयानक आतंकी हमला:

  • शुक्रवार दोपहर 1.30 बजे से क्राइस्टचर्च में दो अलग-अलग मस्जिदों में कम से कम एक दर्जन बंदूकधारी द्वारा 40 लोगों की हत्या
  • क्राइस्टचर्च में अल नूर मस्जिद में बंदूकधारी – एक 28 वर्षीय ऑस्ट्रेलियाई ने बड़े पैमाने पर लोगो को गोली मार दी।
  • न्यूजीलैंड के प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न ने हमले की निंदा करते हुए कहा कि शुक्रवार का आतंकी हमला ‘न्यूजीलैंड के इतिहास के सबसे काले दिनों में से एक’ था।

 

(सौजन्य- डेली मेल ऑनलाइन)

Related News