Breaking News

महान हॉकी खिलाड़ी बलबीर सिंह सीनियर का निधन, भारत को 3 बार ओलंपिक गोल्ड मेडल दिलाने में निभाई थी अहम भूमिका

vidit upadhyay 25 May 2020 8:46 AM Sports 45913

भारतीय हॉकी इतिहास (Indian Hockey) के महान दिग्गज बलबीर सिंह (Balbir Singh Sr) का रविवार की सुबह देहांत हो गया. वो काफी समय से बीमार चल रहे हैं और मोहाली के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती थे. खबरों के अनुसार उन्हें सांस लेने में काफी तकलीफ होने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था. 95 साल के बलबीर सिंह ने अपने करियर में भारत के लिए कई शानदार इतिहास लिखे. महान बलबीर ने लंदन (1948), हेलसिंकी (1952) मेलबर्न (1956) ओलपिंक में भारत को गोल्ड मेडल दिलाने में अहम भूमिका निभाई. बलबीर सिंह 1975 वर्ल्डकप में भारतीय हॉकी टीम के मैनेजर भी रहे हैं. बलबीर सिंह सीनियर के नाम 1952 ओलंपिक के फाइनल में नीदरलैंड को भारत ने 6- 1 से हराया था उस मैच में बलबीर सिंह ने 5 गोल दागे थे जो आजतक एक रिकॉर्ड है.

उनके निधन से हॉकी का एक महान युग खत्म हो गया है. सोशल मीडिया पर हॉकी को चाहने वाले लोग उन्हें याद कर श्रद्धांजलि दे रहे हैं. 95 वर्षीय बलबीर के परिवार में बेटी सुशबीर और तीन बेटे कंवलबीर, करणबीर और गुरबीर हैं.

बता दें कि साल 1954 में भारतीय टीम जब सिंगापुर दौरे पर गई थी तो भारतीय टीम ने कुल 121 गोल किए थे जिसमें से अकेले बलबीर सिंह ने 84 गोल करने का कमाल किया था. वहीं, साल 1955 में न्यूजीलैंड-ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैचों के दौरान भारतीय टीम ने कुल 203 गोल दागे जिसमें 121 गोल बलबीर सिंह जी ने किए थे. साल 1958 के एशियन गेम्स में भारतीय टीम ने सिल्वर मेडल जीता था उस टीम के भी सदस्य रहे थे बलबीर सिंह.

Related News