Breaking News

जानिए Mother’s Day के बारे में ये ज़रूरी बातें?

Monika Yadav 10 May 2020 9:19 AM International 61542

कहते हैं कि मां के प्यार का कर्ज चुकाया नहीं जा सकता. मां के प्यार, त्याग और तपस्या के बदले हम चाहे कुछ भी कर लें वो हमेशा कम ही रहेगा. हमें इस दुनिया में लाने वाली और इंसान बनाने वाली मां के प्रति सम्मान और प्यार जाहिर करने के लिए वैसे तो किसी विशेष दिन की जरूरत नहीं है लेकिन मदर्स डे (Happy Mother’s Day) हमें अपनी भावनाओं को जाहिर करने का एक बहाना और मौका जरूर देता है. इसी वजह से हर साल मई के दूसरे रविवार को दुनियाभर में मदर्स डे मनाया जाता है. इस साल मदर्स डे (Mother’s Day) 10 मई को मनाया जा रहा है.

 मां के प्रति अपना प्यार जाहिर करने का यह दिन अलग-अलग देशों में अलग-अलग तारीख को मनाया जाता है. हालांकि, भारत समेत कई देशों में मदर्स डे मई के दूसरे रविवार को ही मनाया जाता है. मदर्स डे (Mother’s Day Date) के दिन लोग मां को गिफ्ट देकर या उन्हें स्पेशल फील करा कर अलग-अलग तरह से अपनी भावनाओं को जाहिर कर यह दिन मनाते हैं. 

कैसे हुई मदर्स डे की शुरुआत?
बता दें, मां को सम्मान देने वाले इस दिन की शुरुआत अमेरिका से हुई. अमेरिकन एक्टिविस्ट एना जार्विस अपनी मां से बहुत प्यार करती थीं. उन्होंने न कभी शादी की और उनका न कोई बच्चा था. मां की मौत होने के बाद प्यार जताने के लिए उन्होंने इस दिन की शुरुआत की. फिर धीरे-धीरे कई देशों में मदर्स डे (Mother’s Day) मनाया जाने लगा. 

मई के दूसरे रविवार को क्यों मनाया जाता है मदर्स डे?
9 मई 1914 को अमेरिकी प्रेसिडेंट वुड्रो विल्सन ने एक लॉ पास किया था जिसमें लिखा था कि मई महीने के हर दूसरे रविवार को मदर्स डे मनाया जाएगा, जिसके बाद मदर्स डे अमेरिका, भारत और कई देशों में मई महीने के दूसरे रविवार को मनाया जाने लगा.

कैसे मनाया जाता है मदर्स डे?
मदर्स डे लोग अलग-अलग तरीके से मनाते हैं. कुछ लोग अपनी मां को मदर्स डे पर तोहफे देते हैं तो कुछ उनके लिए कुछ स्पेशल करते हैं. लोग, मां के प्रति अपनी भावनाओं को अलग-अलग तरीके से जाहिर करते हैं. 

source :- NDTV

Related News